बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन, स्थिति

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना | udyami.bihar.gov.in |

बिहार सरकार ने राज्य के युवाओं को स्वरोजगार के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की शुरुआत की है। युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए देश की सभी राज्य सरकारों द्वारा योजनाएं शुरू की जा रही हैं, इसी क्रम में बिहार सरकार ने भी बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना शुरू की गई है। बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत राज्य में रोजगार अनुपात में सुधार के लिए काम किया जाएगा।

इस लेख में, हम बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना 2022 से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे: आवेदन के चरण, पात्रता और आवश्यक दस्तावेज आदि साझा करेंगे। यदि आप इस योजना से संबंधित सभी जानकारी के बारे में जानना चाहते हैं, तो इस लेख को ध्यान से पढ़ें।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना

बिहार सरकार ने राज्य के युवाओं के उज्ज्वल भविष्य को ध्यान में रखते हुए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए राज्य सरकार अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के नागरिकों को लाभान्वित करने के लिए Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana लेकर आई है।

इस योजना के तहत राज्य सरकार युवाओं को उद्योग के लिए प्रोत्साहित करने की दिशा में काम करेगी और साथ ही युवाओं को स्वरोजगार और उद्योगों की स्थापना के लिए 10 लाख रुपये तक का ऋण दिया जाएगा। बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का लाभ लेकर युवा अपना उद्योग शुरू कर सकेंगे। बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के लिए सरकार द्वारा 102 करोड़ का बजट आवंटित किया गया है।

योजना का नाम बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना
आरम्भ की गई मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा
लाभार्थी राज्य के बेरोजगार व्यक्ति
लाभ ऋण प्रदान करना
आधिकारिक वेबसाइट udyami.bihar.gov.in

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का उद्देश्य

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के माध्यम से राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य राज्य में सूक्ष्म और लघु उद्योगों को बढ़ावा देना है। इस योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के नागरिकों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी, ताकि वे अपना खुद का व्यवसाय शुरू कर सकें। इस योजना से राज्य में बेरोजगारी दर में भी कमी आएगी। इससे अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के युवाओं को बेहतर आजीविका जीने का अवसर मिलेगा।

Bihar EWS Certificate application Form | बिहार EWS प्रमाणपत्र आवेदन फॉर्म

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के लाभ

  • यह योजना बेरोजगारी दर को कम करने में भी मददगार होगी।
  • बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत सरकार उद्योग लगाने पर 10 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि देगी।
  • इस योजना के तहत 10 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि में से 5 लाख रुपये अनुदान के रूप में और 5 लाख रुपये ब्याज मुक्त ऋण के रूप में प्रदान किए जाएंगे।
  • इस योजना के माध्यम से अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के नागरिकों की आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगा।

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के मुख्य तथ्य

नए उद्यमियों के लिए लाभ:

नए उद्योग लगाने वाले उद्यमी ही इस बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। योजना के सभी पात्र हितग्राही बिहार उद्योग निवेश प्रोत्साहन नीति 2021 का लाभ भी प्राप्त कर सकेंगे।

प्रशिक्षण के लिए वित्तीय सहायता:

लाभार्थियों का चयन करने के बाद, प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के तहत ₹25000 प्रति इकाई प्रदान की जाएगी।

अनुदान राशि:

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के माध्यम से प्रदान की जाने वाली राशि पर लाभार्थियों को 50% या अधिकतम ₹500000 तक का अनुदान प्रदान किया जाएगा।

लोन चुकाने की अवधि:

सभी हितग्राहियों को बिहार युवा अनुदान योजनान्तर्गत परियोजना लागत का 50% अधिकतम ₹500000 तक का ब्याज मुक्त ऋण जमा करना होगा। यह राशि हितग्राही को 7 वर्ष में 84 पृष्ठों के माध्यम से जमा करानी होगी।

पात्रता मापदंड क्या है?

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए, उद्यमियों को निम्नलिखित पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा।

  • आवेदक को बिहार राज्य का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है|
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष से लेकर 50 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  • उद्यमी अपने निजी पैन पर प्रोपराइटरशिप फर्म कर सकता है।
  • आवेदक के पास उसका करंट अकाउंट होना अनिवार्य है।

आवश्यक दस्तावेज क्या है?

आवेदन करते समय निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी-

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पैन कार्ड
  • जाती प्रमाण पत्र(पिता के नाम से)
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • मैट्रिक प्रमाण पत्र
  • इंटरमीडिएट या समकक्ष योग्यता प्रमाण पत्र
  • हस्ताक्षर
  • करेंट अकाउंट निर्गत की तिथि साक्ष्य के साथ
    • एससी/एसटी के लिए दिनांक 17/05/2018 के बाद
    • पिछड़े वर्ग के लिए दिनांक 04/02/2020 के बाद
    • महिला के लिए दिनांक 13/05/2021 के बाद (जिन्होंने पहले अप्लाई किया उनके लिए दिनांक 18/05/2018 के बाद)
    • युवा के लिए दिनांक 13/05/2021 के बाद

चयन कैसे होगा?

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के सभी 16000 लाभार्थियों का चयन कम्प्यूटरीकृत रेंडमाइजेशन प्रक्रिया के माध्यम से किया जाएगा। इस प्रक्रिया में आने से पहले पारदर्शिता के लिए किसी और स्तर से भी चयन किया जाएगा। इसके लिए पहले जिलों में प्राप्त कुल 62,324 आवेदनों की दो स्तरों पर जांच की जाएगी और उसके बाद सभी पात्र आवेदकों में से कुल 42,477 आवेदनों का चयन किया जाएगा।

उसके बाद इन चयनित आवेदनों का डाटा चयन प्रक्रिया शुरू होने से कुछ देर पहले एनआईसी द्वारा तैयार किए गए विशेष सॉफ्टवेयर में स्थानांतरित कर दिया जाएगा। इसके बाद कम्प्यूटरीकृत रेंडमाइजेशन प्रक्रिया के माध्यम से सूची में सभी श्रेणियों के पात्र आवेदनों के स्थान में परिवर्तन किया जायेगा| इस तरह पूरी जांच के बाद सरकार द्वारा प्राप्त 16000 सफल चयनित आवेदकों को ऋण की राशि दी जायेगी|

आवेदन कैसे करे?

  • सबसे पहले आपको बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद होमपेज खुल जायेगा।
  • होमपेज पर आपको रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होगा|
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा।
  • इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे: नाम, मोबाइल नंबर, आधार नंबर और एप्लीकेशन के टाइप आदि जानकारी भरनी होगी।
  • इसके बाद आपको ओटीपी प्राप्त करे के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को दिए गए बॉक्स में भरना होगा।
  • अंत में सत्यापित करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा|

लॉगिन कैसे करें?

पहले अपनी ईमेल आईडी पर जाकर लॉगइन आईडी तथा पासवर्ड देखना होगा जिसे मेल के माध्यम से आपको भेजा गया होगा।

  • सबसे पहले आपको बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • इसके बाद होमपेज खुल जायेगा।
  • होमपेज पर आपको लॉगइन के विकल्प पर क्लिक करना होगा|
  • आवेदन पत्र आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुल जाएगा।
    अब आपको इस आवेदन पत्र को भरना होगा।

आवेदन पत्र भरने की प्रक्रिया सात चरणों में पूरी की जाएगी

पहला चरण

  • आपके आवेदन पत्र के पहले चरण में आपको अपनी व्यक्तिगत जानकारी भरनी होगी जैसे;
    • आवेदक का आधार नंबर
    • आवेदन कर्ता का नाम
    • आवेदन कर्ता का पता
    • आवेदन का प्रकार
    • ईमेल आईडी
    • उच्चतम शैक्षिक योग्यता आदि
    • जन्मतिथि
    • जाती
    • माता/पिता/पति/अभिभावक का नाम
    • मोबाइल नंबर
    • लिंग
    • वैवाहिक स्थिति
  • सभी जानकारी भरने के बाद सेव के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा और आप आवेदन के दूसरे चरण पर पहुंच जाएंगे|

दूसरा चरण

  • इस चरण मैं आपको अपनी शिक्षा से संबंधित जानकारी भरनी होगी। शैक्षणिक विवरण दर्ज करने के लिए आपको शैक्षणिक विवरण जोड़े के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • यदि आप दक्षता प्रशिक्षण कोर्स का विवरण दर्ज करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको दक्षता प्रशिक्षण कोर्स जोड़े के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब एक नया फॉर्म आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगा। इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करें जैसे;
    • बोर्ड/संस्था का नाम
    • बोर्ड/संस्था का रोल नंबर
    • पास करने का साल
    • विषय
    • प्रशिक्षण संस्था का नाम
    • वर्ष
    • ट्रेंड
    • अवधि
  • सभी जानकारी भरने के बाद जोड़े के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा और आवेदन का अगला पृष्ठ आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगा।

तीसरा चरण

  • आवेदन पत्र के तीसरे चरण में आपको अपना पारिवारिक विवरण भरना होगा जैसे;
    • अवधि
    • ट्रेंड
    • पास करने का साल
    • प्रशिक्षण संस्था का नाम
    • बोर्ड/संस्था का नाम
    • बोर्ड/संस्था का रोल नंबर
    • वर्ष
    • विषय
  • सभी जानकारी भरने के बाद जोड़े का बटन दबना होगा और आवेदन का चौथा चरण आपकी स्क्रीन पर खुल जाएगा।

चौथा चरण

  • इस चौथे चरण में आपको अपने संगठन का विवरण दर्ज करना होगा जैसे;
    • आवेदक को संस्था/इकाई का प्रकार
    • आवेदनकर्ता की संस्था/इकाई से संबंधित पदनाम
    • क्या आपने प्रोपराइटरशिप, पार्टनरशिप फर्म, एलएलपी अथवा प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का गठन किया है?
    • संस्था/इकाई का नाम
    • संस्था/इकाई का पंजीकृत पता
  • सभी जानकारी भरने के बाद सेब का बटन दबाना होगा। यदि आप अपनी संस्था या इकाई में प्रमोटर, डायरेक्टर या पार्टनर जोड़ना चाहते हैं तो इसके लिए आपको प्रमोटर, डायरेक्टर, पार्टनर जोड़े के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अंत में दिए गए कॉलम में संबंधित जानकारी भरनी होगी।
  • सभी जानकारी भरने के बाद जोड़े का बटन दबाना होगा और आप आवेदन के अगले चरण पर पहुंच जाएंगे।

पांचवा चरण

  • आवेदन के पांचवें चरण में आपको परियोजना विवरण दर्ज करना होगा जैसे;
    • परियोजना का नाम
    • क्या आपने इस परियोजना से संबंधित कोई कौशल प्रशिक्षण लिया है? यदि नहीं तो आपको सेव करके आगे बढ़ना है और यदि हाँ तो प्रशिक्षण संस्थान का नाम, वर्ष, प्रवृत्ति, अवधि दर्ज करें और जोड़ी विकल्प पर क्लिक करें।
    • क्या भूमि/शेड की पहचान कर ली गई है? यदि नहीं तो सेव करें और अगले चरण पर जाएं और यदि हां तो आपको भूमि का विवरण दर्ज करना होगा।
  • सभी जानकारी भरने के बाद सेब का बटन दबाना होगा और छठे चरण की ओर बढ़े।

छठा चरण

  • योजना के आवेदन के छठे चरण में आपको वित्त विवरण फॉर्म भरना होगा। इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी ध्यान पूर्वक दर्ज करनी होगी जैसे;
    • कार्यशील पूंजी
    • क्या भवन/शेड/दुकान किराए पर है? यदि हां तो किराए की रकम दर्ज करनी होगी।
    • पूंजी/निवेश का विवरण
    • प्लॉट और मशीनरी/उपकरण
    • अन्य अचल संपत्ति
  • इस फॉर्म में मांगी गई सभी जानकारी भरने के बाद सेव के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा और फिर अपना बैंक विवरण दर्ज करना होगा जैसे;
    • आईएफएससी कोड
    • केवल ट्रांजैक्शन आईडी
    • खाता का प्रकार
    • खाता संख्या
    • बैंक का नाम
    • शाखा का नाम
  • अब एक बार फिर आपको सेव के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

सातवां चरण

  • आवेदन के सातवें एवं आखिरी चरण में आपको सभी मांगे गए दस्तावेज अपलोड करनी होगी जैसे;
    • आवासीय प्रमाण पत्र
    • इंटरमीडिएट का समकक्ष
    • उच्चतम शैक्षिक योग्यता का प्रमाण पत्र
    • जमीन संबंधित रसीद/पट्टे से संबंधित दस्तावेज/किरायानामा
    • जाति प्रमाण पत्र
    • प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र
    • प्रोफाइल फोटो
    • मैट्रिक/दसवीं पास का प्रमाण पत्र
    • रद्द चेक कौशल
    • संस्था/इकाई निजी पेन कार्ड
    • संस्था/इकाई प्रमाण पत्र
    • हस्ताक्षर की फोटो
  • सभी दस्तावेज अपलोड कर लेने के बाद अंत में एक बार आपको दर्ज की गई सभी जानकारी की जांच कर लेनी चाहिए। इसके लिए आपको फॉर्म डाटा की जांच करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • सभी जानकारी की जांच करने के बाद आपको सत्यापित करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा। अब आपको सभी अपलोड किए गए दस्तावेजों की जांच भी करनी होगी।
  • अंत में एक बार फिर सत्यापित करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा और इसके पश्चात आवेदन फॉर्म जमा करें के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।

कुछ महत्वपूर्ण अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न उत्तर

 

बिहार मुख्यमंत्री उद्यमी योजना में कौन-कौन लोग आवेदन कर सकते हैं?

बिहार के वह सभी नागरिक जो अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग के हैं वह इसके लिए आवेदन कर सकते हैं।

Bihar Mukhyamantri Udyami Yojana के अंतर्गत हमें कितना ब्याज देना होगा?

1% ब्याज देना होगा।

Leave a Comment

error: Content is protected !!